19.3.11

होली की खुशियों में इसका भी ध्यान रखें.



जल बचाएं - जीवन बचाएं.
 



वनों का विनाश - जीवन का नाश.


प्राकृतिक संसाधनों के दुरुपयोग को यथासम्भव रोकें ।

यदि ये सम्भव न हो तो कम से कम उसमें सहभागी न बनें ।

 
जल बचाएं, जंगल बचाएं.

प्रतिकात्मक रुप से प्राकृतिक रंगों से सिर्फ तिलक होली मनावें ।



           
          होली के इस रंगारंग पर्व पर केमिकल रंगों के हानिकारक प्रभाव से स्वयं को बचाने के लिये इस लिंक पर माउस क्लिक द्वारा चटका लगाके "बेरंग न करदें होली के ये रंग" आलेख देखें.

होली के इस रंगारंग पर्व पर हार्दिक शुभकामनाओं सहित...


18 टिप्पणियाँ:

सतीश सक्सेना ने कहा…

हार्दिक शुभकामनायें !

खुशदीप सहगल ने कहा…

तन रंग लो जी आज मन रंग लो,
तन रंग लो,
खेलो,खेलो उमंग भरे रंग,
प्यार के ले लो...

खुशियों के रंगों से आपकी होली सराबोर रहे...

जय हिंद...

RAJEEV KUMAR KULSHRESTHA ने कहा…

अब ये बुजुर्गों वाली नसीहत रहने दो ।
पहले वो घुटी भांग निकालो । जो दर्शन कौर जी ने
बताया कि आपने मेहमानों के लिये तैयार कर रखी है ।
..आपको बाकलीबाल फ़ैमिली को " हैप्पी होली "
दर्शन जी अपने ब्लाग पर -
सुशिल जी ने भांग घुटाई !
सराफे से भांग मंगाई !
सत्यम जी ने भांग चडाई !
अब तो मुश्किल हो गई साईं !

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

धन्यवाद राजीव जी, जो आपने सुशिलजी को आवगत करा दिया की उन्हें मेरे ब्लोक पर आना है और भांग का पेग चडाना है-- क्योकि इंदौर वाले ही जानते है की 'सराफा 'क्या है ? वेसे सुशिल जी आपकी नसीहत काबिले गोर है..
आपके पुरे परिवार को होली के पावन दिन की बहुत -बहुत बधाई हो --दो -दो शुभ अवसर !दुगनी ख़ुशी..

OM KASHYAP ने कहा…

आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाये

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सुन्दर संदेश।

योगेन्द्र पाल ने कहा…

मेरा मंगलवार को पेपर है तो मैं होली नहीं खेल रहा हूँ

कम से कम मैं तो पानी बर्बाद नहीं करूँगा

कमेन्ट में लिंक कैसे जोड़ें?

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं। ईश्वर से यही कामना है कि यह पर्व आपके मन के अवगुणों को जला कर भस्म कर जाए और आपके जीवन में खुशियों के रंग बिखराए।
आइए इस शुभ अवसर पर वृक्षों को असामयिक मौत से बचाएं तथा अनजाने में होने वाले पाप से लोगों को अवगत कराएं।

Dr (Miss) Sharad Singh ने कहा…

सुन्दर एवं जरूरी संदेश...

रंगपर्व होली पर असीम शुभकामनायें !

devanshukashyap ने कहा…

पेंट, तैल, इत्यादि के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाना आवश्यक है| उससे भी ज़रूरी है उन वर्णों का प्रयोग करना जो प्रकृति के किसी भी तत्त्व को हानि ना पहुँचा पायें | गुलाल, हल्दी, आल्ता इत्यादि ही पुरातन समय उपयोग किए जाते थे | इन पदार्थों का प्रचार करना अत्यावश्यक है |

Kunwar Kusumesh ने कहा…

होली की हार्दिक शुभकामनायें.

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

होली की हार्दिक शुभकामनाये...

Shah Nawaz ने कहा…

आपको भी परिवार सहित होली की बहुत-बहुत मुबारकबाद... हार्दिक शुभकामनाएँ!

Udan Tashtari ने कहा…

उचित सलाह!!

आपको एवं आपके परिवार को होली की बहुत मुबारकबाद एवं शुभकामनाएँ.

सादर

समीर लाल

दिगम्बर नासवा ने कहा…

सच कहा है ... पर होली की मस्ती में कोई ध्यान कहाँ रखता है ....
आपको और समस्त परिवार को होली की हार्दिक बधाई और मंगल कामनाएँ ....

Dorothy ने कहा…

नेह और अपनेपन के
इंद्रधनुषी रंगों से सजी होली
उमंग और उल्लास का गुलाल
हमारे जीवनों मे उंडेल दे.

आप को सपरिवार होली की ढेरों शुभकामनाएं.
सादर
डोरोथी.

Sawai SIingh Rajpurohit ने कहा…

रंग के त्यौहार में
सभी रंगों की हो भरमार
ढेर सारी खुशियों से भरा हो आपका संसार
यही दुआ है हमारी भगवान से हर बार।

आपको और आपके परिवार को होली की खुब सारी शुभकामनाये इसी दुआ के साथ आपके व आपके परिवार के साथ सभी के लिए सुखदायक, मंगलकारी व आन्नददायक हो। आपकी सारी इच्छाएं पूर्ण हो व सपनों को साकार करें। आप जिस भी क्षेत्र में कदम बढ़ाएं, सफलता आपके कदम चूम......

होली की खुब सारी शुभकामनाये........

सुगना फाऊंडेशन-मेघ्लासिया जोधपुर,"एक्टिवे लाइफ"और"आज का आगरा" बलोग की ओर से होली की खुब सारी हार्दिक शुभकामनाएँ..

समय मिले तो ये पोस्ट जरूर देखें.
"गौ ह्त्या के चंद कारण और हमारे जीवन में भूमिका!"
लिक http://sawaisinghrajprohit.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

आपका कीमती सुझाव और मार्गदर्शन अगली पोस्ट को और अच्छा बनाने में मेरी मदद करेंगे! धन्यवाद…..

Babli ने कहा…

बहुत ख़ूबसूरत रचना लिखा है आपने जो काबिले तारीफ़ है! बधाई!
आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य प्रतिक्रियाओं के लिये धन्यवाद...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...